Computer Kya Hai | What is Computer in Hindi

Computer Kya Hai: दोस्तों आज के इस पोस्ट में हम लोग जानने वाले हैं कि Computer Kya Hai और Computer कितने प्रकार होते हैं? तो आपको बता दें कि आज के समय में दुनियाभर में Use होने वाला ये एक ऐसा Machine है जो पूरे विश्वभर के विकास की गति को ही बहुत तेज कर दिया है आपको ये पता ही होगा कि Computer का Use हर क्षेत्र में ही किया जा रहा है।

अगर आपको Computer के बारे में बेसिक जानकारी प्राप्त नहीं है तो आज के इस पोस्ट (Computer Kya Hai | What is Computer in Hindi) में हम आपको Camputer के प्रकार एवं इसकी विशेषता क्या होती है? सारी जानकारी नीचे आपको बताने वाले हैं।

दोस्तों Computer एक Electronic Machine है जो उपभोक्ता के द्वारा दिए जाने वाले सभी निर्देश को ग्रहण करता है और Data को Process करता है और Computer हमारे Data को Store करता है तथा जरूरत पड़ने पर वो Data हमें दोबारा Use करने के लिए प्रदान भी करता है।

अगर आप Student हैं तो आपने Computer के बारे में जरूर ही सुना होगा और बहुत लोग तो इसका Use भी करते होंगे और जिस किसी को भी Computer के बारे में बेसिक जानकारी प्राप्त नहीं है तो आप हमारे इस पोस्ट के जरिए आसानी से Computer के प्रकार के बारे में बेसिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं लेकिन इससे पहले आपको ये जान लेना बहुत ही जरूरी है कि Computer Kya Hai in Hindi तो चलिए जानते हैं।

Computer Kya Hai | What is Computer in Hindi

Computer Kya Hai | What is Computer in Hindi

दोस्तों आपको बता दें कि Computer “संगणक” के नाम से भी जाने जाते हैं और ये एक ऐसा इलेक्ट्रॉनिक मशीन है जो सभी Users के द्वारा इनपुट किए गए Data को Process करता है और फिर उसके परिणाम को Output Device के रूप में प्रदान भी करता है इसके अलावा आप Computer का इस्तेमाल Email भेजने, दस्तावेज़ बनाने या फिर Game खेलने और Internet से Video बनाने और भी कार्यों के लिए कर सकते हो।

दोस्तों Computer में आप अपने Data को Store भी कर सकते हो और उसे भविष्य में कभी भी Use कर सकते हो Computer शब्द की बात करें तो Computer एक लैटिन भाषा शब्द Computare से बना है और इसका अर्थ गणना करना होता है और इसका Use करके हम बहुत सारे कार्यों को आसानी से करते हैं क्योंकि कम समय में आप Computer से बहुत ही ज्यादा Speed Calculation कर सकते हो Computer का Use पूरे देश भर में बहुत ज्यादा किया जा रहा है जैसे- Collage, School, Railway Station, Airport, Bank, Transport, Space, Hotel, Movies और भी कई जगहों पे Computer का Use किया जा रहा है।

दोस्तों अगर आपको Computer चलाना आता है तो आपको नौकरी के लिए परेशान होने की कोई जरूरत नहीं है क्योंकि Computer Course करके आप आसानी से जॉब प्राप्त कर सकते हो तो Computer Kya Hai Hindi इसके बारे में आपको पता चल ही गया होगा तो चलिए अब आगे की सारी जानकारी प्राप्त करते हैं।

Computer का Full Form क्या होता है?

दोस्तों Computer Kya Hai इसके बारे में आपको पता चल ही गया है तो अब चलिए ये भी जान लेते हैं कि Computer Full Form क्या है क्योंकि बहुत सारे लोग ऐसे होते हैं जिन्हें Computer का पूरा नाम नहीं पता रहता है तो चलिए जानते हैं।

Full Form of Computer:

तो दोस्तों चलिए अब जानते हैं कि Computer का Full Form क्या होता है।

C- Commonly

O- Operated

M- Machine

P- Particularly

U- Used in

T- Technical

E- Educational

R- Research

Computer Screen को क्या कहते हैं?

दोस्तों जब हम लोग Computer में अपना काम करते हैं तो उसके लिए हम लोग Monitor का इस्तेमाल करते हैं जोकि Computer का एक Output Device होता है तो हम आपको बता दें कि Computer Screen को Monitor कहा जाता है।

Computer की परिभाषा क्या है? | Definition of Computer in Hindi

दोस्तों आपको बता दें कि Computer एक Electronic Device होता है जो Users के द्वारा Input किए गए सारे Data को Program के अनुसार Process करता है और फिर इसके बाद वो Output के रूप में रिजल्ट भी दिखाता है जिसका उपयोग आप भविष्य में भी कर सकते हो दोस्तों Computer का कार्य करने का तरीका क्या होता है चलिए ये भी जानते हैं।

Computer अपने कार्य को तीन स्टेप में करते हैं सबसे पहले Input Device से अपने Computer के Data को Input Data के रूप में लेता है और फिर इसके बाद User जो Data डालता है ये उसे अपने Program के द्वारा Process कर लेता है और फिर User को Output के रूप में Data को दिखा देता है।

दोस्तों ये Arithmetical और Logical दोनों तरह के Data को स्वीकार करके उसे Process करता है ये एक ऐसा इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस है जो सभी कार्य को बहुत ही आसानी से और तेज़ी से कर सकता है लेकिन इसके बारे में ज्यादातर लोग नहीं जानते हैं अगर आप भी नहीं जानते हो तो आप हमारे पोस्ट Computer Kya Hai | What is Computer in Hindi के जरिए आसानी से सारी जानकारी प्राप्त कर सकते हो।

Computer कैसे काम करता है?

दोस्तों वैसे तो Laptop/Desktop पर अक्सर हर कोई कार्य करते हैं लेकिन बहुत सारे लोगों को ये नहीं पता होता है कि Computer कैसे काम करता है तो अगर आप भी नहीं जानते हैं तो चलिए जानते हैं।

Input- दोस्तों सभी उपयोगकर्ता Input Device से अपने Data को जिसमें डालते हैं उसको ही Input कहते हैं और ये एक Information होता है जो बहुत सारे प्रकार के होते हैं जैसे कि Numbers, Words, Letters,Video और Audio इत्यादि हैं।

Processing- दोस्तों ये एक प्रकार का Internal Process होता है और Input किये गए Data को Program में दिए हुए Instruction के आधार पर उसे Process करता है।

Output- जिस Processed Data को हम लोग रिजल्ट के रूप में मॉनिटर पे देखते हैं उसे ही Output कहा जाता है।

Computer के भाग | Parts of Computer

दोस्तों Computer एक Electronic Device होता है और इसके कई सारे Parts भी होते हैं अगर आप Computer इस्तेमाल करते होंगे तो आपने जरूर देखा होगा कि उसमें कार्य करने के लिए अलग-अलग Parts होते हैं और उसमें से कुछ Necessary Parts होते हैं जिसके बिना आपके Computer का System Work नहीं कर सकता है और इसके अलावा कुछ ऐसे भी पार्ट्स होते हैं जिसे हम अपने Extra कार्य को पूरा करने के लिए Use कर सकते हैं।

दोस्तों इसमें सभी कार्य के लिए हर एक Device का Use होना बहुत जरुरी होता है तो चलिए अब जानते हैं कि Computer में कौन कौन से Parts होते हैं जिसके बिना Computer कोई भी कार्य नहीं कर सकता Computer में बहुत सारे जरूरी Parts होते हैं जिसके बारे में आपको नीचे बताया गया है।

Input Device- हम लोग अपने Computer के अंदर Data को Enter करने के लिए Input Device का ही Use करते हैं Data और Instruction, Input device का ही Use करके हम अन्य Form में Enter करते हैं आपको बता दें कि Input Device एक ऐसा Device होता है जो सभी Data और निर्देश को Input करने के बाद सीधे ही CPU तक पहुंचाता है और इस Device से गए हुए Instructions System के दिमाग को ये बताते हैं कि क्या Use करना है।

आपको बता दें कि Input Device एक प्रकार का नहीं बल्कि अलग-अलग प्रकार का होता है जिससे आप Instruction और Data को Input कर सकते हो यहां पर मैं आपको अन्य अलग-अलग Input Device जैसे Digital Camera, Scanner, Mouse, Keyboard और Light Pen के बारे में बता रहा हूं।

Output Device- आपको बता दें कि Output वो Device होता है जो User के द्वारा Input किए गए Data को Result के रूप में प्रदान करता है Output Device के द्वारा Computer से प्राप्त Result प्राप्त किए जाते हैं और फिर इन सभी परिणामों को प्राय: Display Device (Screen) और Printers के द्वारा सभी User को प्रस्तुत भी किये जाते हैं।

आपको बता दें कि मुख्य रूप से Output के रूप में प्राप्त सभी सूचनाओं को या तो आप उसे Screen पे देख सकते हो या फिर उसे प्रिंटर से पेज पर प्रिंट कर सकते हो या फिर Music सुनने के लिए आप Output के रूप में स्पीकर का भी Use कर सकते हो आपको बता दूं कि Output Device कई प्रकार का होता है जैसे- Sound Speaker, Monitor, Plotter, Projector, Printer इत्यादि।

Motherboard- दोस्तों Motherboard जोकि Computer का बहुत ही ज्यादा महत्वपूर्ण Device होता है और ये Computer के सभी हिस्सों को Connect करके भी रखता है Motherboard में Mouse, Keyboard, CPU, Monitor, Printer और भी बहुत सारे Device Cables से Connect होते हैं।

इसके अंदर एक Hardware भी उपस्थित होता है और इसे System का Backbone भी बोला जाता है Laptop और Desktop के अलावा और भी बहुत सारे Devices होते हैं जिसमें Motherboard का Use किया जाता है और आपके Tablet और Mobile में भी Motherboard उपस्थित होता है।

Power Supply- दोस्तों आपको बता दें कि Switched Mode Power Supply भी एक इलेक्ट्रिकल डिवाइस होता है और ये आपके Computer System के सभी पार्ट्स को ऊर्जा Supply भी करता है।

Computer का इतिहास | History of Computer

दोस्तों Computer का अविष्कार लगभग 2000 साल पहले ही किया गया और दुनिया का “Abacus” सबसे पहला Computer है आपको बता दें कि ये लकड़ी का बना हुआ है और इससे गणित का कैलकुलेशन किया जाता है इसके सभी Development को 5 Generation के रूप में बांटे गए हैं।

Computer का Generation | Generation of Computer 

अब हम लोग एक-एक करके Computer के सभी Generation के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे तो चलिए अब जानते हैं।

1. First Generation – Vaccum Tubes (1940-1956)

First Generation में Computer का काल 1940 से लेकर 1956 तक माना जाता है और ये वो Computer थे जिसमें Vacuum Tube को Circuitry और Magnetic Drum के रूप में मेमोरी के लिए Use किया करते थे इसका Use करना बहुत ही ज्यादा महंगा पड़ता था क्योंकि इसको चलाने में बहुत ही ज्यादा बिजली का खर्चा होता था।

इसके अलावा ये बहुत ही ज्यादा Heat भी Generate करता था जिसके कारण Malfunction का भी Problem हो सकता था Input Device के लिए Paper Tape और Punch Cards का Use किया करते थे और Output Device के लिए Print Out का Use करते थे Computer Generation में ENIAC को पहला Computer माना जाता है।

2. Second Generation – Transistor (1956-1963)

दोस्तों आपको बता दें कि Second Generation Computers में Vaccum Tubes के जगह पर Transistor का Use होने लगा था “Bell Labs” के द्वारा 1947 में Transistors का अविष्कार किया गया था और Vaccum Tube की तुलना में ये Transistors बहुत ही ज्यादा अच्छा था क्योंकि ये Fast होने के साथ ही कम Electricity का भी Use करता था।

जिसके कारण इसको चलाना बहुत ही ज्यादा सस्ता हो गया था आपको बता दें कि Second Generation में Computer Machine Language के जगह पर Assembly Language का Use किया करते थे और इसमें ज्यादातर FORTRAN और COBOL को High Level Language के रूप में Use किए गए थे।

3. Third Generation – Integrated Circuits (1964-1971)

दोस्तों इस Third Generation में Transistors का Integrated Circuits ने जगह ले लिया था और अब Transistor बहुत छोटा भी हो गया था जिसको Silicon Chips के भीतर डाला गया था और उसे Semi Conductor कहा जाता है।

इसने अपने Efficiency और Speed को बहुत ही ज्यादा बढ़ा दी हैं और अब Print Out और Punch Card के जगहों पे Monitor और keyboard के Use होने शुरू हो गए हैं और इसके लिए ही Operating System का Use किया गया था।

4. Fourth Generation – Micro Processor (1971-1980)

आपको बता दें कि Fourth Generation के रूप में Micro Processor का Use होने लगा था और Micro Processor में हज़ारो Integrated Circuits को एक ही Silicon Chip के अंदर Built किए गए थे आपको बता दें कि ये System इतना ज्यादा Develop हो गया था कि ये पूरे रूम भर को कैप्चर किया करता था।

अब के समय में ये हथेली भर के साइज का हो गया है आपको बता दें कि 1971 में Intel 4004 Chip को Develop किया गया था और इसके अंदर ही सभी Components को Fix कर दिए गए थे IBM ने घर पे Use होने वाले पहले System को भी 1981 में तैयार कर लिया था।

5. Fifth Generation – Artificial Intelligence (1980 से वर्तमान तक)

दोस्तों Fifth Generation System सभी Artificial Intelligence पे आधारित हैं और अभी भी ये Develop ही किए जा रहे हैं हम लोग इसका सिर्फ एक ही रूप Use कर रहे हैं और वो रूप Voice Recognition है और Quantum Calculation Parallel Processing ये Artificial Intelligence का ही Example है Artificial Intelligence के होने से ये खुद ही निर्णय लेने के लिए बिल्कुल सक्षम होता है।

Computer के प्रकार | Types of Computer

दोस्तों आपको बता दें कि Broadly के काम करने के आधार पे ही इसको 3 Category में बांटा गया है और इनमें से सबके एक अलग-अलग प्रकार भी होते हैं तो चलिए जानते हैं।

Analog Computer- दोस्तों ये एक ऐसा System है जो कि सभी जानकारी को दिखाने के लिए Analog Signal का ही Use करता है और उसको हम Analog Computer कहते हैं आपको बता दें कि इसमें जो भी जानकारी होती है वो सभी Continuous Form में ही होती है और उसे ही Curves के रूप में दिखाते भी हैं Continuous Physical Quantity जैसे बिजली का प्रवाह, तापमान और ब्लड प्रेशर को मापने के लिए इसका Use किया जाता है।

Digital Computer- दोस्तों आपको बता दें कि जिस भी System में अलग जानकारी को दिखाने के लिए Binary Digits का Use किया जाता है हम उसे ही Digital Computer कहते हैं इसमें आपकी सारी जानकारी Discrete Form में होती है और ये सारी जानकारी Picture, Text और Graphics के रूप में होती है।

Hybrid Computer- एक ऐसा System जो जानकारी दिखाने के लिए Analog Signal के साथ ही साथ Binary Digits को भी समझने के योग्य होता है उसे हम Hybrid Computer के रूप में जानते हैं Hybrid में Operating Mode के अनुसार जानकारी भी Show करते हैं और इसमें सारी जानकारी को Continuous Form में और उसके साथ ही साथ Discrete Form में भी होती है क्योंकि इसमें Digital Processing के साथ Analog Processing भी करता है।

Types of Computer

Computer का उपयोग | Uses of Computer

अब हम Computer के उपयोग के बारे में जानकारी प्राप्त करने वाले हैं तो चलिए जानते है कि Computer का उपयोग कहां-कहां किया जाता है।

Government Office Work- दोस्तों ये तो आपको भी पता होगा कि आज के समय में सभी Office में कर्मचरियों को Computer में काम करने के लिए ट्रेनिंग भी दी जा रही है ताकि उनके समय का बचत भी हो सके और उनके सभी कार्य पूरे भी हो सकें।

Hospital- आपको बता दें कि Hospital में भी कई प्रकार से Computer का Use होता है जैसे कि किसी भी Test के लिए कई प्रकार के मशीनों का Use होता है जोकि इसके ही यंत्र से बने हुए होते हैं।

Business- आज के समय में बड़े बड़े प्रोजेक्ट का प्लानिंग इसी यंत्र के जरिये किया जाता है जैसे कि आपको नए Business को स्टार्ट करने से लेकर अंत तक प्लान करने के लिए डायग्राम और कई प्रकार के चार्ट की भी आवश्यकता पड़ती है जोकि इस पर ही बनाए जाते हैं। 

इनके अलावा भी ऐसे बहुत सारे कार्य हैं जिसमें Computer का उपयोग किया जाता है।

[FAQs]

Q. Computer की खोज कब और किसने की थी?

Computer की खोज सन 1823 में Charles Babbage ने की थी और Charles Babbage को ही Computer का जनक माना जाता है।

Q. Computer कितने प्रकार का होता है?

दोस्तों Processing Speed और आकार के आधार पे Computer के चार प्रकार होते हैं Mini Computer, Micro Computer, Mainframe Computer, Super Computer

Q. भारत में पहली बार Computer कब शुरू हुआ?

भारत में Kolkata Indian Statistical Institute में Computer को सन 1952 में पहली बार स्थापित किया गया था और इस तरह से भारत में Computer का चलन शुरू हो गया था।

Q. Computer क्या होता है?

ये Device के माध्यम से Data को प्राप्त करता है और फिर अपने Processing Unit के द्वारा ही अपने Processing के कार्य को शुरू करता है और फिर इसके बाद उपयोगकर्ता द्वारा Input किए गए Data के अनुसार उसे Output प्रदान करता है।

Conclusion:-

दोस्तों आज के इस पोस्ट Computer Kya Hai | What is Computer in Hindi में हम लोगों ने कंप्यूटर के बारे में पूरी जानकारी के बारे में जाना अब आपको इसके बारे में दोबारा से Internet पर Computer Kya Hai इसके बारे में Search नहीं करना होगा।

मैं उम्मीद करता हूं कि आपको मेरा यह आर्टिकल जरूर पसंद आया होगा अगर आपको मेरा ये आर्टिकल पसंद आया है तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें और अगर इस आर्टिकल से संबंधित कोई भी प्रश्न है तो आप हमें Comment Box में जरूर बताएं। धन्यवाद

ये भी पढ़ लो:-

MS Word Kya Hai और MS Word कैसे सीखें?

Keyboard Kya Hai | What is Keyboard in Hindi

Operating System Kya Hai | What is Operating System in Hindi

Hello दोस्तों!! मेरा नाम Noman Khan है और मैं इस Blog का Founder हूं इसके साथ ही मैं एक YouTuber भी हूं और आपकी जानकारी के लिए बता दूं कि मैनें B.Sc. (Agriculture) किया है और अभी फिलहाल आगे की पढ़ाई कर रहा हूं इसके साथ ही बचे हुए समय में Blogging करता हूं।

Leave a Comment